12वीं के बाद PCS की तैयारी कैसे करें | 12th ke bad UPPCS ki taiyari kaise kare

12वीं के बाद यूपीपीसीस की तैयारी कैसे करें : एक सफल और असफल व्यक्ति में क्या अंतर होता है, आपको पता है क्या | सफल और असफल व्यक्ति में सिर्फ एक ही अंतर है और वो है discipline ( अनुशासन) | आज के इस लेख में आप जानेगे की 12 के बाद pcs की तैयारी कैसे करें |

 

 

 

12th ke bad UPPCS ki taiyari kaise kare thumbnail

 

          UP PCS का exam काफी तगड़ा होता है | पर UP PCS का exam crack अगर अपने एक बार दिन रात देखे बिना मेहनत करके crack कर लिया , तोह आप का आने वाला जीवन काफी रोमांच से भरा हुआ होगा | आपकी आर्थिक स्थिति तो अच्छी होगी ही साथ ही आपको समाज में काफी मान – सम्मान मिलेगा |

 

 

     हर साल लगभग 4 लाख लोग इसका form भरते हैं जबकि selection केवल almost 300 से 500 लोगों की होती है | अपनी इस यात्रा को smooth बनाने के लिए यह काफी आवश्यक है की आप समय रहते अपनी तयारी शुरू कर दें  | 12 के बाद PCS की तैयारी करने का सबसे सही समय है |

 

 

किसी  महान व्यक्ति ने कहा है की किसी भी exam के लिए study करने से पहले उस exam को study करो | अगर आपको UP PCS crack करना चाहते हैं तो सबसे पहले UPPSC PCS का exam pattern देखें |

 

 

UP PCS Exam Pattern यूपीपीसीस परीक्षा पैटर्न

 


PCS के लिए उम्र काम से काम आपकी 21 years होनी चाहिए और आप Graduate ( स्नातक )होने चाहिए |

UP PCS का exam कुल 3 चरणों में करवाया जाता है , ये तीन चरण हैं :-

  • Preliminary exam (Pre)
  • Mains exam
  • Interview

सबसे पहले आपको pre के एग्जाम पैटर्न को समझना है :- 

 

Preliminary Exam Pattern | प्रारंभिक परीक्षा

 

यह Pre का एग्जाम हर साल लगभग june के आस पास करवाया जाता है और इसका result लगभग अगस्त के आस पास आता है | इस समय UPPSC PCS exam का जो पैटर्न follow किया जाता है वो UPSC के जिसे ही है | उसमे कुल दो paper होते हैं | 

 

  • General Studies (GS I)
  • CSAT  (GS II)

 

          इसमें जो GS I का पेपर 150 अंकों का होता है | GS II या CSAT का जो पेपर होता है वो 100 अंको का होता है | आपका CSAT या GS II का पेपर पहले check किया जाता हैं | CSAT के पेपर में आपको कम से काम 33% अंक लाना अनिवार्य हैं |

 

      अगर ऐसा नहीं होता हैं तो आपका GS I वाला पेपर check नहीं किया जाएगा और आप इस competition से बहार हो जाएंगे |

 

            अगर आप CSAT या GS II का पेपर pass कर लेते हैं तो ही आपका GS I के पेपर को जांचा जाएगा | GS I में आये नम्बरो के हिसाब से cut-off list बनाई जायेगी | अगर आप इसके cut-off नंबर को पार कर जाते हैं तभी केवल आपको इसका Mains exam या मुख्या परीक्षा देने का मौका मिलेगा |

 

Preliminary का exam केवल आपको Mains exam में बैठने का मौका देगा | Preliminary exam में प्राप्त marks को final selection list बनाते समय नहीं जोड़ा जाता |

Mains Exam Pattern | मुख्य परीक्षा पैटर्न

 

       Mains Exam लगभग हर साल अक्टूबर के महीने में होता है | इसमें कुल 8 पेपर होते है जिसमे आपको उत्तर लिख कर देना होता है | यह एक तरीके से written exam होता है | इसमें MCQ जैसे प्रश्न नहीं पूछे जाते |

 

इसमें कुल marks की संख्या 1500होती है | Mains Exam में होने वाले paper कुछ इस प्रकार है :-

  1. हिंदी भाषा 
  2. निबंध 
  3. जनरल स्टडीज – I
  4. जनरल स्टडीज – II
  5. जनरल स्टडीज – III
  6. जनरल स्टडीज – IV
  7. वैकल्पिक विषय – I ( Optional I )
  8. वैकल्पिक विषय – II ( Optional II )

 

Interview

 

ये UPPSC PCS की चयन प्रक्रिया का last stage है | ये आपको Mains Exam को cross करने के बाद देना होगा | ये लगभग मार्च के महीने में UPPSC द्वारा करवाया जाता है | Mains Exam में प्राप्त नंबर interview के नम्बरो के साथ जोड़कर ही फाइनल लिस्ट बनाई जाती है |

 

क्या 12 के बाद UP PCS का पेपर दिया जा सकता है

 

UPPSC PCs के exam में बैठने के लिए सिर्फ 12th pass होना काफी नहीं है | 12 के बाद PCS की परीक्षा की preparation आप कर सकते हैं | लेकिन PCS का exam आप Graduate होने के बाद ही दे सकते हैं |

Graduation में आपकी स्ट्रीम से कोई लेना – देना नहीं है | आप BA , BSC , BCOM , B.TECH आदि कोई भी graduation degree लेने के बाद UPPSC PCS का exam दे सकते हैं |

 

12 के बाद UP PCS की तयारी की शुरुवात कैसे करें

 

 

UPPSC के परीक्षा पैटर्न को समझने के बाद आप या तो किसी Coaching Institute ( Offline / Online ) कर सकते है | पर 12th के बाद आपको अपने College की studies भी करनी होगी तो इस समय अगर आप self-study करें तो आप दोनों चीज़ों को संतुलित कर सकते हैं | अब इसके बाद करने वाले steps कुछ इस प्रकार हैं :-

 

 

1-  UPPSC Syllabus Clarity | PCS के सिलेबस को समझें  

          ज़्यदातर बच्चे सालों तक तैयारी करते रहते हैं पर उन्हें UPPSC PCS के syllabus का idea नहीं होता है | सबसे पहले आपको UPPSC के सिलेबस को download करना है | इस syllabus को हमेशा आपको अपने study area पर साथ रखना है | 

 

         UP PCS  syllabus को याद करने से आपको यह देखने में आसानी होगी की कौन चीज़ पढ़नी है और कौन छोड़नी | 12 के बाद पीसीएस की तयारी की structured शुरुवात करना चाहते है तोह सबसे पहले पाठ्यक्रम पर अच्छे से पकड़ बना लें |

 

2- Go through Previous Year | पिछले को देखें 

 

              कोई भी exam हो  , उसमे पिछले सालों के पेपर को हल करने और उनकी analysis करने से काफी मदद मिलती है | सबसे पहले पिछले पांच वर्षों के पेपर को download कर हल करने की कोशिश करें | आप ये पेपर UPPSC की official website से भी डाउनलोड कर सकते हैं | 

         

            इससे आपको यह अंदाजा लगेगा की paper pattern कैसा है और पढ़ते समय आपको किन – किन चीज़ों का ध्यान रखना है |

 

3- Daily Newspaper Reading | रोज अख़बार पढ़ने की आदत 

 

 

     आम तौर पे हर किसी व्यक्ति के दिन में 24 hours होते हैं पर एक UPPSC PCS की तयारी कर रहे छात्र  की ज़िन्दगी में सिर्फ 23 घंटे होते हैं | क्यूंकि 1 hr रोज उसका newspaper reading में जाना ही है | 

 

आप कोई भी एक अख़बार जो आपको अच्छा लगे ले सकते है | अंग्रेजी में mainly The Hindu या Indian Express ले सकते हैं | हिंदी में आपको शायद ज्यादा विकल्प न मिले पर आप जनसत्ता ले सकते हैं | 

 

Current Affairs के notes के लिए आप किसी भी अच्छे संसथान की monthly magazine ले सकते हैं | ध्यान यह रखिये गए की सिर्फ 1 अख़बार और 1 monthly magazine लीजिये | और उसे बार बार मत change कीजिये | 

 

4- Start with NCERTs | एनसीईआरटी की किताबों से करिये शुरुवात 

 

           NCERT की किताबें आम तौर पे छूटे बच्चों के लिए लिखी जाती हैं | इसके चलते कई बार PCS aspirants इसकी उपयोगिता को ignore कर देते हैं | पर अकसर देखा गया है की कई बार ques सीधा  NCERT से उठ कर आ जाते हैं |

 

    सीधा सवाल आने के अलावा यह किताबें आपकी नींव तैयार करेंगे | इन किताबों को करने के बाद ही आप किसी standard book को उठाएं |

 

5- Optional Subject | वैकल्पिक विषय का भी रखें ध्यान 

 

ऑप्शनल सब्जेक्ट के UPPSC Mains के अंदर 2 पेपर होते हैं | आप बहुत से subjects में से अपनी पसंद का कोई भी 1 subject चुन सकते हैं | इस subject को अगर आप कॉलेज से ही थोड़ा थोड़ा करके पढ़ेंगे तो आपको काफी आसानी होगी |

 

6- Take Care Of your health | अपने स्वस्थ्य का रखें ध्यान 

 

PCS का exam कोई छोटी दौड़ नहीं बल्कि एक मैराथन है | इसमें आपको one day में सब कुछ पढ़ना है, पर रोज पढ़ना है | तोह इस consistency को बनाये रखने के लिए अपनी health का ध्यान रखना बहुत ज़रूरी है |

 

अपनी health का ध्यान रखने के लिए आप 20+10 rule follow रख सकते हैं | इसमें आपको 20 मिनट की कोई शारीरक कसरत करनी है | उसके बाद 10 minutes की कोई mental exercise करनी है जैसे ध्यान करना | 

 

Standard Books for PCS | UP PCS के लिए किताबें

 

UPPSC / PCS के लिए books कुछ इस प्रकार हैं :-

 

1- NCERT की books 6-12th या 9-12th जैसा आप चाहें 

 

2- Modern History आधुनिक इतिहास     

 

     

 

3- Ancient History प्राचीन इतिहास 

 

 

4- Medieval History मध्यकालीन इतिहास 

 

 

5- Geography भूगोल 

 

 

6- Indian Polity भारतीय राज्यव्यवस्था 

 

 

7- Economy अर्थव्यवस्था

 

 

8- Environment पर्यावरण 

 

 

9- General Science सामान्य विज्ञान 

 

 

10- Art & Culture कला और संस्कृति 

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Telegram group ज्वाइन करें l

Join Telegram Group for job updates and a lot more.